24 साल के लंबे इंतजार के बाद लखनऊवासी एक बार फिर इंटरनेशनल क्रिकेट के लुत्फ उठा सके. लखनऊ का नवनिर्मित इकाना स्टेडियम भारत और वेस्टइंडिज के बीच खेले जाने वाले तीन मैचों की श्रृंखला के दूसरे मैच की मेजबानी की. यह मैच दिवाली से एक दिन पहले 6 नवंबर को खेला जाएगा. इस मैच की मेजबानी के लिए नवनिर्मित और आधुनिक सुविधाओं से युक्त इकाना स्टेडियम का मुकाबला कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम से था. आखिर में अपनी सुविधाओं की वजह से इकाना ने बाजी मार ली.
बता दें इकाना इंटरनेशनल स्टेडियम देश के बेहतरीन स्टेडियम में से एक है. 71 एकड़ में बना यह स्टेडियम विश्वस्तरीय सुविधाओं से लैस है. इस स्टेडियम में 1800 वर्ग फीट की दो स्क्रीन लगी है. यानी आप इस मैदान के किसी भी कोने से मैच का लुत्फ उठा सकते हैं.
इसके अलावा 40 वीआईपी बॉक्स और 8 कॉर्पोरेट लोंज भी हैं. इतना ही नहीं विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम, मीडिया सेंटर और फ्लड लाइट इसे अन्य स्टेडियम से ख़ास बनाता है. इकाना स्टेडियम में 9 पिच्थ हैं जो मुंबई और कटक से लाई गई मिटटी से बनी है. विश्स्तारिया ड्रेनेज सिस्टम से कुछ ही समय में बारिश का पानी बाहर निकल जाता है.
देश के अन्य स्टेडियम में जहां क्रिकेटरों और दर्शकों के बीच एक जाली की दीवार होती है, इकाना स्टेडियम में ऐसा कुछ भी नहीं है. यहां मैच देखकर आपको लगेगा कि आप कहीं विदेश में है. इस स्टेडियम की और खासियत है, वह यह कि इसकी पार्किंग में ढाई हजार से ज्यादा गाड़ियां खड़ी हो सकती हैं.