ऑस्ट्रेलिया टीम सीरीज जीतने के बाद
आईसीसी ने टेस्ट मैचों की लोकप्रियता को बढ़ाने के लिए आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप करवाने का फैसला लिया था। हाल ही में अगस्त में स्टार्ट हुई ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच की एशेज़ सीरीज से इस चैंपियनशिप का आगाज हो चुका है। इस चैंपियनशिप का फाइनल जून 2021 में लॉर्ड्स में खेला जाएगा इस चैंपियनशिप के दौरान कुल 27 सीरीज होंगी जिनमे 71 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। इस चैंपियनशिप के हिस्सा 9 टीमें होंगी जो इस प्रकार हैं: भारत , पाकिस्तान, बांग्लादेश न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका। सभी टीमें आपस में 6-6 सीरीज खेलेगी जिसमें प्रत्येक टीम को तीन सीरीज अपने घरेलू मैदान में और 3 सीरीज विदेशी मैदान पर खेलनी होगी।
प्रत्येक सीरीज के लिए 120 अंक निर्धारित किए गए हैं, यानि अगर दो मैच हुए तो प्रत्येक मैच 60 अंक का होगा, तीन मैच हुए तो प्रत्येक मैच 40-40 अंक का होगा आदि। एक सीरीज में न्यूनतम 2 मैच और अधिकतम 5 मैच खेले जा सकते हैं। जो टीम मैच जीतेगी उसे पूरे अंक मिलेंगे। मैच के टाई होने पर आधे- आधे अंक दिए जाएंगे और मैच ड्रॉ होने पर प्रत्येक टीम को एक तिहाई अंक दिए जाएंगे। सभी सीरीज को खेलने के बाद जो टॉप की 2 टीमें होंगी उन्हें 2021 में जून माह में लॉर्ड्स के मैदान पर फाइनल खेलने का मौका मिलेगा। आज हम इस लेख पर इस बात पर चर्चा करेंगे कि वह कौन- कौन सी तीन टीमें हैं जो कि हमें आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में दिख सकती हैं।
# इंग्लैंड
एक टेस्ट मैच जीतने के बाद जश्न मनाती इंग्लैंड की टीम
इंग्लैंड की टीम टेस्ट चैंपियनशिप को जीतने की प्रबल दावेदार है। हाल ही में एशेज सीरीज में इंग्लैंड ने शानदार प्रदर्शन किया। यह जरूर है कि उन्हें ऑस्ट्रेलिया से कड़ी टक्कर मिली और सीरीज ड्रॉ रही। इंग्लैंड की टीम में एक से एक खतरनाक गेंदबाज और बल्लेबाज हैं। जहां उनके पास स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन और जोफ्रा आर्चर जैसे तेज गेंदबाजों की तिकड़ी है, वही उनके पास जो रूट, इयान मोरगन, जोस बटलर और बेन स्टोक्स जैसे धुआंधार बल्लेबाज हैं। आदिल रशीद और मोईन अली जैसी स्पिन का तो क्या ही कहना। इन खिलाड़ियों के अलावा इंग्लैंड के पास और भी ऐसे कई खिलाड़ी हैं जो किसी व्यक्ति के खिलाफ कभी भी मैच का रुख बदल सकते हैं। इंग्लैंड की टीम इस समय अपने पूरे रुतबे के साथ लगातार मैचों को जीत रही है और हमें उम्मीद है कि वह हमें आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में दिखेगी।
# आस्ट्रेलिया
प्रसन्न मुद्रा में ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम
ऑस्ट्रेलिया की टीम फिलहाल टेस्ट रैंकिंग में पांचवे नंबर पर है। लेकिन हाल ही में हुए एशेज़ सीरीज में उन्होंने जिस तरह का प्रदर्शन दिखाया उससे यह कहना गलत नहीं होगा कि यह टीम भी टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल का हिस्सा होने वाली है। ऑस्ट्रेलियाई टीम में जहां मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस और पीटर सिडल जैसी तेज गेंदबाज है, वहीं स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और मार्कस हैरिस जैसे बल्लेबाजों की तिगड़ी है। यह जरूर है कि डेविड वॉर्नर का हालिया प्रदर्शन थोड़ा खराब चल रहा है, लेकिन वह जल्दी फॉर्म में वापसी करेंगे ऐसा हमें उम्मीद है। जिस तरह से स्टीव स्मिथ और ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज फार्म में चल रहे हैं उससे यह कहना गलत नहीं होगा कि यह टीम टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में खेलेगी। लेकिन उन्हें आने वाले मौकों पर न्यूजीलैंड और इंडिया जैसी टीमों के खिलाफ होने वाली सीरीज में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। हमें उम्मीद है कि यह टीम इन मुश्किलों से पार पाएगी।
# भारत
मैच जीतने के बाद भारतीय टेस्ट टीम
भारतीय टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है। भारतीय कप्तान विराट कोहली और भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह विश्व के महानतम बल्लेबाजों और गेंदबाजों में से एक हैं। भारतीय टीम इस समय संतुलित नजर आ रही है और उसने हाल ही में उसने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज अपने नाम की है। हमें उम्मीद है कि पूर्व की भांति भारतीय टीम लगातार शानदार प्रदर्शन करेगी और पहली टेस्ट चैंपियनशिप अपने नाम करेगी। भारतीय टीम का मुख्य मुकाबला ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड जैसी टीमों से होगा जिनके खिलाफ अभी भारतीय टीम को टेस्ट सीरीज खेलनी है।
वैसे जिस तरह से भारतीय टीम का फॉर्म चल रहा है, उससे भारतीय टीम का टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल में जाना तय है और उन्हें इस सफर के दौरान कोई दिक्कत भी नहीं होनी चाहिए। जहां भारतीय टीम में विराट कोहली,रोहित शर्मा,चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे जैसे बल्लेबाज हैं। उनके पास कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी जैसे गेंदबाज हैं जो किसी भी मैच का रुख पलट सकते हैं।